देश की अग्रणी म्यूजिक कम्पनी टिप्स में नया आयाम; 90 लाख लोगों ने यू टूब चैनल पर सब्सक्राईब किया

KUMAR TAURANI 2
टिप्स कम्पनी के चेयरमैन एवं मैनेजिंग डायरेक्टर, कुमार तौरानी (फोटो:सीताराम मेवाती)

देश की प्रसिद्ध संगीत कम्पनी टिप्स ने संगीत के क्षेत्र में लोकप्रियता का एक नया अध्याय कायम किया है. यू टूब चैनल पर उनके नब्बे लाख सदस्यों ने सब्सक्राईब किया है. यह अपने आप में एक बहुत बढ़ी उपलब्धि और मील का पत्थर है. लोकप्रियता की सदस्यता का सिलसिला लगातार जारी है और कुछ ही समय में इनकी संख्या करोड़ के पार हो जाएगी यह कहना अतिशयोक्ति नहीं होगी. ज्ञात हो की जितनी संख्या में लोग सब्सक्राईब करते हैं उसका तात्पर्य यह होता है की लोकप्रियता अपने चरम पर है. यु टूब चैनल पर नब्बे लाख चहितों की संख्या भारत के साथ अन्य देशों में भी बढ़ी है. टिप्स के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर, कुमार तौरानी ने कहा की “ हमने अपने संगीत सामग्री से कभी भी समझौता नहीं किया और हमेशा बढ़िया गाने पेश किये. जिस प्रकार हमारे दर्शकों की संख्या 90 लाख हुई है, हमारी अपेक्षा है की हमारे 5 करोड़ सदस्य बने”.

     

हाल ही में टिप्स कम्पनी द्वारा निर्मित दो फ़िल्में “रेस-3” और “जीनीयस” रिलीज हुई हैं जिनका संगीत काफी लोकप्रिय हुआ है. जीनीयस फिल्म के दो गाने “तेरा फितूर जब से चढ़ गया है” और “दिल मेरी ना सुने” काफी लोकप्रिय हुए हैं. ये दोनों गाने संगीत की सीढियों के अग्रणी पायदानों पर  चल रहे हैं. दोनों गाने बहुत ही कर्णप्रिय और यादगार हैं. इन्हें बार बार सुनने और देखने का मन करता हैं, जिससे पता चलता है की गानों की गहराइ और अहमियत क्या है.   

जैसा की जग जाहिर की आज का दौर इन्टरनेट का दौर है इसीके मद्देनजर कुमार तौरानी ने अपनी कंपनी को इस छेत्र में आगे बढ़ने का प्रयास तीव्र गति से शुरू कर दिया है. रेस-3 और जीनीयस फिल्मों की कामयाबी के अवसर पर टिप्स कंपनी के मालिक कुमार तौरानी ने प्रेस वार्ता बुलाई और कई पहलुओं पर विस्तार पूर्वक बताया. तौरानी ने कहा कि “हम कलाकारिता,नवोन्मेष और व्यवसायिता के लिए प्रतीबद्ध हैं”.   

ज्ञात हो की टिप्स कंपनी सन 1980 के उत्तरार्ध से बोलिवुड में अधिग्रहण एवं अपने स्वामित्व का मैनेजमेंट काफी कामयाब तरीके से कर रही है. आज का युग डिजिटल युग है और टिप्स कंपनी भी अपने आप को नए युग की ओर ले जा रही है. वो पुराने गानों को डिजिटल रूप में परिवर्तित कर रही है. यह एक अच्छी पहल है और प्रतीत हो रहा है की अब यह गति थमेगी नहीं. टिप्स कंपनी का अहम् गुण ऊँची कोटि के संगीत को चुनना और उनको बढ़िया ढंग से मार्केटिंग करके बढ़ावा देना और नयी चीजों को पेश करना है. उनकी मार्केटिंग टीम ऊँचे दर्जे की होने से हमेशा शानदार सफलता और प्रशंसा प्राप्त करती है.

तौरानी ने आगे कहा की “हर उद्योग में बाजार का रुझान और दौर बदलता रहता है. हर बार कोई न कोई नयी चीजें उभरती हैं. समय के साथ चलने और तरक्की के लिए नए रुझानों को आत्मसात करना अनिवार्य होता है. हम हमेशा नयी चीजें ढूंढते और आत्मसात करते है जो की हमारी सफलता का एक हिस्सा है. जैसे कहा जाता है की मौसम के अनुरूप कपडे पहने जाते हैं उसी प्रकार नए रुझान आत्मसात करना भी जरुरी है, नहीं तो पिछड जायेंगे. हम हमेशा कुछ नया करने में विश्वास करते हैं इसी वजह से हम आज अग्रणी हैं”. 
तौरानी ने आगे कहा की आज का युग वेब सिरीज का है और पूरी दुनियां में यह चलन तेजी से चल रहा है. हम भी वेब सीरीज बनाने के भी इछुक हैं और कई स्क्रिप्ट पर रिसर्च कर रहे हैं. हमें अब तक लगभग तीन से चार कहानियां जँची हैं, इन पर विस्तार से चर्चा हो रही है. जो भी स्क्रिप्ट  हमारे मापदंड पर सही उतरेगी उस पर काम शुरू करेंगे”.  

टिप्स का परिचय:

टिप्स इंडस्ट्रीज की स्थापना सन 1975 में हुई. यह भारत की एक सबसे बड़े संगीत एवं फिल्म के कॉर्पोरेट घरानों में से एक है. इनका मुख्य व्यवसाय संगीत बनाना,  संगीत को बढ़ावा देना और फ़िल्में बनाना है. टिप्स कम्पनी की विशेष बात यह है की इनके पास भारत की अन्य संगीत कंपनियों की तुलना में सबसे से अधिक गोल्ड और प्लैटिनम डिस्क होने का श्रेय प्राप्त हैं. इनके वितरण का क्षेत्र काफी व्यापक है. देश में इनके लगभग १००० से ज्यादा थोक के वितरक हैं और ये १ हजार वितरक पुरे देश के लगभग चार लाख खुदरा लोगों को सेवा प्रदान करते हैं. टिप्स कंपनी अब तक ३२ फिल्मों का निर्माण किया है जिनमे सबसे पहली फिल्म बेकाबू को सन १९९६ में रिलीज किया था और बत्तीसवी फिल्म जीनीयस है जिसे हाल ही में २०१८ में रिलीज किया गया. टिप्स ने फिल्म निर्माण के अलावा10 फिल्मों का वितरण भी किया है.   

Sitaram Mewati

Author: Sitaram Mewati

Award winning journalist

Sitaram Mewati

Sitaram Mewati

Award winning journalist

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *